उत्तर प्रदेशगाजियाबाददिल्ली
Trending

भगवान् विश्वकर्मा एवं उनके पाँचों पुत्रों की प्रतिमा प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम धूम धाम से हुआ संम्पन्न

गाज़ियाबाद – दिनांक 15-01-2020 को हिंडन तट पर नवनिर्मित भगवान् विश्वकर्मा वेद मंदिर में भगवान् विश्वकर्मा एवं उनके पाँचों पुत्र मनु, मय, त्वष्टा, शिल्पी व् दैवज्ञ की प्रतिमा प्राण प्रतिष्ठा सनातन वैदिक परम्पराओं के अनुसार की गयी। यह एक ऐतिहासिक मंदिर है तथा इसका प्रथम बार निर्माण हिंडन नदी पर बनाने वाले सेतु के निर्माण के समय किया गया था। यह एक सयोंग ही है की हिंडन नदी पर सेतु का पुनर्निर्माण एवं भगवान् विश्वकर्मा वेद मंदीर का निर्माण भी एक साथ ही समाप्त हुआ है। इस मंदिर का जीर्णोद्धार शिव मंदिर दुर्गा प्रबंध समिति के सहयोग से विश्वकर्मा समाज कल्याण सभा, गाज़ियाबाद द्वारा कराया गया है । मूर्ति स्त्थापन के इस कारकर्म में मुख्य अतिथि के रूप में, गाज़ियाबाद महापौर श्रीमती आशा शर्मा उपस्तिथ रही।

इस पावन अवसर पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश से विश्वकर्मा समाज के सभी नेताओं एवं समाज सेवियों को आमंत्रित किया गया था। इस अवसर पर सभी वक्ताओं ने भगवान् विश्वकर्मा एवं उनके पांचों पुत्रों के विषय में जानकारी दी तथा उनकी महिमा पर प्रकाश डाला। भगवान् विश्वकर्मा सृजनकर्ता, अनुसंधानकर्ता, वैज्ञानिक, अभियंता, वास्तुविक, ज्योतिष एवं खगोलशास्त्री थे। ब्रह्माजी जी ने सृष्टि के रचना की तथा भगवान् विश्वकर्मा जी ने सृष्टि को तकनिकी ज्ञान तथा विज्ञानं का मार्गदर्शन दिया।

इस कार्यकर्म पर कै० श्री चंद्रपाल पांचाल, आदित्य धीमान, यशपाल धीमान, नरेंद्र पांचाल, राजू पांचाल, बालेश्वर पांचाल, रोहताश सोलंकी, विश्वकर्मा यूथ ब्रिगेड के प्रदेश अध्यक्ष श्री आशुतोष धीमान, मुज़्ज़फरनगर से श्री विशम्बर पांचाल, बालमुकुंद पांचाल, सुधीर शर्मा, उमाशंकर
शर्मा, डा० अजय भरद्वाज, ओमप्रकाश विश्वकर्मा, अमरीश धीमान एवं सैकड़ों विश्वकर्मा समाज के लोगों ने भाग लिया। अंत में कार्यकर्म के अध्यक्ष कै० श्री चंद्रपाल पांचाल जी ने कार्यकर्म को सफल बनाने के लिए सभी को धन्यवाद दिया!

सुधीर शर्मा – पांचाल विश्वकर्मा, अपना समाज विश्वकर्मा समाज, गाज़ियाबाद उ० प्र० 9818876458

Tags
Back to top button
Close